Nummular Dermatitis: Symptoms And Causes

Nummular Dermatitis: Symptoms And Causes
Nummular Dermatitis: Symptoms And Causes

Nummular Dermatitis का Causes जाने, Symptoms क्या होते हैं और Nummular Dermatitis की पूरी जानकारी, साथ में Nummular Dermatitis को पहचाने


एक्जिमा  के सभी प्रकारों में Nummuler dermatitis भी एक हैं, ये दूसरे एक्जिमा  से देखने में अलग होती हैं।

Nummular Eczema  को Discoid Eczema  भी कहा जाता हैं। नउम्मुलर एक लैटिनशब्द हैं जिसका अर्थ होता हैं सिक्का। इसका मतलब हैं की ये एक्जिमा  देखने में सिक्कों की तरह होता हैं, और इसी बजह से इस Nummular Eczema  को जल्द ही पहचाना जा सकता हैं।

ये एक्जिमा  शरीर में एक coin की तरह दिखाई देता हैं जो दूसरे एक्जिमा  से अलग होता हैं, लेकिन ये कोई फंगल इन्फेक्शन नहीं होता हैं और इसी लिए इसे पहचानना जरुरी होता हैं, बिना जाने अगर हम इसका इलाज करते हैं तो ये ठीक नहीं होता हैं।


ये ज्यादातर पुरसो में पाये जाने वाली एक्जिमा  होता हैं, महिलाए पुरसो के तुलना में इस एक्जिमा  से कम प्रभावित  होते हैं। पुरुष इस एक्जिमा  में 50 साल के बाद प्रभावित होते हैं और महिलाएं इसके तुलना में किसोरी अबस्था में ही इस से प्रभावित होती हैं। कभी कभी यह बीमारी बच्चों में भी पाए जाती है, लेकिन बहुत ही कम मात्रा में।

Symptoms Of Nummular Eczema

यह एक्जिमा  दूसरे एक्जिमा  से देखने में अलग होता हैं, इसी लिए पहचाना जा सकता हैं। इस में  स्किन पर सिक्के की तरह गोल आकार या अंडाकार में चकत्ते बन जाते हैं, और इसकी किनारें भी स्पस्ट होती हैं।

पहले लाल लाल के चकत्ते बन जाना फिर इसका रंग गाढ़ा भी हो सकता हैं। किनारों से इसका colour और dark होता हैं या इसकी border अच्छी तरह पहचाने जाते हैं।

इस एक्जिमा  में बहुत खुजली होती हैं, कुछ दिनों के बाद ये ज्यादा मात्रा में उभरने  लगते हैं, जिसमे खुजली के साथ जलन भी हो सकती हैं।

बढ़ने के बाद जहाँ जहाँ ये हुवा हैं वहा उबर खाबर परत बन के पपरी निकने लगती हैं।

किसी में खुजली भी बहुत होती हैं और किसी में बिना खुजली के भी निकल सकते हैं लेकिन बाद में खुजली होना और जलन होना आम बात हैं।

किसी किसी को इस में गीले चकत्ते भी बन सकते हैं, लेकिन ये बहुत ही कम मात्रा में पाये जाते हैं।
इस एक्जिमा  को हम कुछ जगहों में विक्सित होते हुए देखते हैं, ये एक्जिमा शरीर के हर हिस्से में नहीं पाए जाते हैं।
यह शरीर के निचले हिस्से में मतलब पैरों में ज्यादा देखने को मिलते हैं। ऐसा नहीं हे की पैरो में ही पाए जाते हैं, लेकिन ज्यादातर पुरसो में ही ये पैरो में पाए जाते हैं।
हाथों के ऊपर के हिस्से में होती हैं। मगर ये हथेलिओ में नहीं पाए जाते हैं।
Forearms  या भुजाओं के आगे के साइड में भी हो सकते हैं।

Hips में भी होते हैं।

पीठ के निचले हिस्से में भी होते हैं, या कमर के पास भी होते हैं।

यह एक्जिमा  शरीर के ऊपर के हिस्से में नहीं होती जैसे..
  • Face में या उसके आस पास के किसी भी सत्र में नहीं होती जैसे कान, नाक इत्यादि।
  • यह एक्जिमा आप के सिर पर भी नहीं होती हैं।
  • और यह दूसरे एक्जिमा  की तरह ये गले में या उसके आस पास भी नहीं होती।
  • हमारे chests पर भी ये एक्जिमा नहीं होती हैं।

Causes Of Nummular 

इसके उत्पत्ति का कारण अज्ञात है और इसी लिए इसका होने का कारण  बता पाना मुसकिल होता हैं। लेकिन कुछ ऐसी वजह है जिस से यह स्किन डिजीज हो सकती हैं, जैसे...

बहुत बार ऐसा देखा गया है की किसी कीड़े के काटने से लाल चकत्ते बन जाते हैं, और कुछ दिनों के बाद उस जगह में Nummular Eczema  उभर के दिखाई देते हैं।

कभी कभी ये किसी इंसान को किसी वजह से चोट लगने के बाद भी यह एक्जिमा हो जाती हैं, इसका यह मतलब नहीं हैं की चोट लगने से ही यह एक्जिमा  हो जाती हैं, लेकिन किसी किसी में ये चोट लगने के कुछ समय बाद बिकसित होता हुवा देखा गया हैं।

कभी कभी हमारा skin कुछ केमिकल के संपर्क में रहने  मात्र से या छूने से अगर स्किन में उन जगहों पर जहा से स्पर्च हो रहा हो, वहा जलन महसूस हो और खुजली होने लगे, और खुजली होने लगे तब ऐसी परिस्थिति में भी यह एक्जिमा बिकसित हो सकती हैं।

स्किन Inflammation या सूजन के बजह से भी एसा हो जाता हैं और ये एक्जिमा बिकसित हो जाती हैं।

शरीर के निचले हिस्से में खराब रक्त प्रवाह के कारण से भी होती हैं।

सर्दिओ में जब हमारा स्किन बहुत ही ड्राई होता हैं और हम स्किन का care नहीं करते हैं तब भी ये एक्जिमा  उभर कर आ सकती हैं।

हमारा शरीर अगर किसी Metals के संपर्क में आते हैं जैसे Nickel तब भी ये बिकसित हो सकती हैं।

किसी को ये साबुन, Detergent या Shampoo से भी ये हो सकती हैं।

कुछ रोजना लिए गए दवाई जैसे इंटरफेरॉन और इसोट्रेटिनॉइन तरह के मदिसिने से भी हमारे स्किन में ये बीमारी हो सकती हैं, या कुछ cream के उसे से भी ये एक्जिमा हो सकती हैं।

ये bacterial infection से भी हो सकती हैं।

Atopic Eczema  होने के बाद यह एक्जिमा विकसित होने की संभावना हो सकती हैं। बहुत लोगो में ये Atopic Dermatitis होने के साथ यह एक्जिमा  का भी समस्या  शुरू होता हुवा देखा गया हैं।

ज्यादा Dry और Sensitive स्किन के लोगो में भी यह एक्जिमा किसी कारण बस बहुत जल्दी बिकसित हो सकती हैं।

कोई इसे फंगल इन्फेक्शन से हुई खुजली समाज के इलाज करने लगते हैं जिस से यह ठीक नहीं होती, इसी लिए इस एक्जिमा  को पहचान ने के बाद ही इलाज करे।

इस डर्मेटाइटिस से कुछ डरने की बात नहीं होती हैं आप लोग इस एक्जिमा से बिलकुल भी न डरे और इसकी अच्छी सिकित्स्य करे, जिस से आप इस से खुद को सुरक्षित रख पाए।

Previous
Next Post »