Vitiligo Home Treatment In Hindi

Vitiligo Home Treatment In Hindi
Vitiligo Home Treatment In Hindi 


आज इस post में हम आप को Vitiligo Home Treatment के बारे में हिंदी में जानेंगे, Vitiligo Home Treatment के बारे में जानने से पहले 
Vitiligo क्या है यह जाने, और इस बीमारी से बिलकुल भी न डरे

Vitiligo क्या है?


Vitiligo एक त्वजा रोग है, जिसे सफ़ेद दाग के रूप में जाना जाता है। यह Autoimmune Diseases होता है Vitiligo द्वारा त्वजा के रंग सफ़ेद देखने लगते है, येसा लगता है की एक सफ़ेद परत धीरे धीरे हमारे त्वजा को cover कर रहा हो। यह हमारे शरीर पर किसी भी शेत्र में त्वचा को प्रभावित कर सकता है। यह बीमारी त्वजा के साथ बालों को, eyebrows को और मुंह के अंदर पर भी होता है। जादा होने पर सिर के बाल सफ़ेद हो जाते है, eyebrows भी सफ़ेद हो जाते है।

vitiligo सभी लोगों को प्रभावित करता है इसमें सभी प्रकार की त्वचा को vitiligo हो सकता है, लेकिन गहरे रंग की त्वचा वाले लोगों में यह बीमारी देखने में जादा स्पस्ट देखी देती है। Vitiligo किसी भी उम्र में किसी को भी प्रभाबित कर सकता है। लेकिन शिशुओ में यह कम पाए जाते है और 20 साल की उम्र से पहले अधिक लोगो में देखी देते है।

vitiligo के लक्षण के बारे में जाने..


Vitiligo का मूल कम कम होता है लोगो के त्वजा रंग में सफ़ेद दाग बनाना। हमारे शारीर में जो हिस्सा सूर्य के संपर्क वाले क्षेत्रों में आता है, यह बीमारी पहलीबार उन जगहों में ही दिखाई देती है, जैसे हाथ, पैर और चेहरा। कुछ लोगो में यह कमर पर और बगल में भी पहले दिखाई देती है।
कुछ लोगो में यह बहुत छोटे धब्बे से सुरु होता है, और धीरे धीरे बरता है।
कुछ लोगो में यह कुछ साल बड़ने के बाद अपने आप ही बदना बन हो जाता है।

विटिलिगो के कुछ संकेत हैं:

Pigmentation का नुकसान

सिर, पलकें, भौहें या दाढ़ी पर सफेद या भूरे रंग का आ जाना। यह बीमारी बढ़ जाने पर पहले इन्ही सेत्रो में दिखाई देती है। जादा होने पर यह मुंह के भीतर और नाक के अन्दर भी सफ़ेद होने लगते है।

यह बताना मुश्किल है कि यह रोग कैसे बढेगा। कुछ मामलों में, बिना सिकित्सा के ही धब्बे बनना बंद हो जाते हैं, और कुछ  में, पुरे शरीर को प्रभावित करता है, कुछ में सफ़ेद धब्बे धीरे धीरे बनते है, कुव्ह में जल्दी बन जाते है। फिर से बापस आपने रंग को पाना सम्ब्हब नहीं है।

Cause of Vitiligo


Vitiligo होने का सही कारन पता नहीं चल पाया है। यह एक येसी बीमारी है जिसमे हमारा शारीर ही हमे लुक्सन पोहचता है। इसे Autoimmune Diseases कहा जाता है।

फिर भी कुछ कारणों का अंदाजा लगाया गया है। जैसे सूरज के बुरे प्रभाब से यह बीमारी शरीर में दिखाई दे सकती है।

शारीर में कुछ vitamins की कमी से भी यह आ सकती है।
अगर शारीर में कोई दूसरी बीमारी और Skin Disease है, तब भी यह बीमारी आ सकती है, जैसे Psoriasis, Eczema, scleroderma, thyroid, stress, diabetes
हमारे शारीर में अगर जादा Toxins जमा हो जाता है या liver ख़राब होता है और Toxins बढ़ जाते है तब भी बहुत साडी Skin Diseases देखने को मिलती है।

Vitiligo कैसे होता है..


हमारी पूरी त्वजा के ऊपर के सामान रंग बनता है, इसी बजह से हम काले, गोर या सावले बनते है। जब हमारा शारीर त्वजा में रंग नहीं बना पता और यह प्रक्रिया त्वजा के किसी एक हिस्से से सुरु होता है, तब वो जगह बिना रंग के मने सफ़ेद बनके दिखाई देती है और हमे Vitiligo सुरु हो जाता है।
यह बीमारी जब रंग पैदा करने वाली कोशिकाएं (pigment-producing cells ) जिसे   melanocytes कहा जाता है, जिस से melanin का उत्पादन होता है, जब यह melanocytes मर जाती हैं या melanin नही बना पता तब हमारे त्वजा पर Vitiligo देखाई देता है।

Vitiligo Home Treatment


इसमें हम आप को कुछ घरेलु इलाज के बारे में बताएँगे जो बहुत ही अच्छा रिजल्ट देता है, पर आप लोगो को इन सब का उपिओग लम्बे समय तक करना होगा

Vitiligo एक येसी बीमे है जिसे कम रहते ठीक किआ जा सकता है। दोस्तों आप लोग निराश ना हो। मैंने आप को जो इलाज बताया है उन सब का उपिओग कुछ दिन के लिए नहीं कुछ महीने के लिए करनी होगी तब ही आप को फर्क देखने को मिलेगा।

थोरा सा हल्धि में तिन गुना सरसों का तेल मिलाएं और त्वचा के सफेद धब्बे पर लगाये । येसा रोज एक या दो बार जरुर करे 

एक तांबे के बर्तन में रातभर पानी रखे और पीएं, यह बहुत उपकारी है सफ़ेद दागो के लिए। तांबा या copper melanin बनाने के लिए बहुत फैदेमंद हे।

तुलसी का पत्ता, यह सफ़ेद दागो के लिए बहुत ही अच्छा होता है। आप काले तुलसी के पत्ते को पिस के रोज सफ़ेद जगहों में लगाये। येसा आपको रोज करना है दिन में दो एक या दो बार कमसे कम 6महीने या उस से जादा तक आप जरुर फर्क देखेंगे।

शहद भी बहुत अच्छा होता है, इसे आप तुलसी के पत्ते के साथ रोज लगा के देखे आप का दाग कम होने लगेगा।

साबधानिया

Vitiligo Diet

Vitiligo में कुछ Diet और साबधान जरुर रहे।

नियमित प्राणायाम करे, इस से शारीर में मजूद Toxins निकल जायेंगे और आप शारीर बिमारिओ से दूर रहेगा।

रोजाना कम से कम ¾ लीटर पानी पिये। पानी त्वजा के लिए बहुत ही लाव्दायक होता है।

रोजाना केले सेब जैसे फल का सेवन करे।

हरी साक सब्जिया खाय।

सूरज के बुरे affect से बचे और suncream का उपिओग करे।

क्या ना करे

बहार में फ़ास्ट फ़ूड का सेवन ना करे।

सराब और धुम्रपान का सेवन न करे।

दूध से बनी चीजे कम खाय।

चाय coffee और चीनी का सेवन कम करे।

खट्टे चीजो का उपिओग कम करे या ना करे।

Vitiligo के बहुत सरे उपचार उपलब्ध है।

दोस्तों एइसा नहीं है की आप लोग Vitiligo का इलाज न करे क्यों की जो इलाज बताया है वो सिर्फ Vitiligo से हुए सफ़ेद दागो को ठीक करेगा Vitiligo बीमारी को नहीं। जब आप एक सही इलाज करेंगे तो यह बीमारी रुक जाएगी और नहीं बढ़ पायेगा। और जब यह बीमारी होना बंध हो जायेगा तब यह नुस्के जो बताया है सभी से सफ़ेद दाग दूर हो जायेंगे।

Previous
Next Post »